वन एवं वन्य जीव विभाग,

उत्तर प्रदेश सरकार, भारत

श्री योगी आदित्यनाथ

माननीय मुख्यमंत्री,उत्तर प्रदेश

श्री दारा सिंह चौहान

माननीय मंत्री,वन विभाग

कैम्पा

वन संरक्षण अधिनियम, 1980 के प्राविधानों के अनुसार वन भूमि के गैर वानिकी उपयोग हेतु भारत सरकार से पुर्वानुमति प्राप्त किया जाना आवश्यक है। वन भूमि हस्तानान्तरण प्रकरणों में भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा लगाई गयी शर्तों के अनुपालन में वन भूमि के गैर वानिकी उपयोग हेतु याचक विभागों से क्षतिपूर्ति वृक्षारोपण, शुद्ध वर्तमान मूल्य वन्यजीव क्षेत्रों के हस्तानान्तरण/उपयोग आदि मदों में व अन्य विशेष शर्तों/उच्चतम न्यायालय के आदेशानुसार धनराशि प्राप्त की जाती है। उक्त धनराशि मा० सर्वोच्च न्यायालय के आदेश से गठित एडहॉक कैम्पा, भारत सरकार के खाते में निधि के रूप में जमा की जाती है।

पर्यावरण एवं व मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली के दिशा-निर्देशों के क्रम में उत्तर प्रदेश कैम्पा का गठन किया गया। उत्तर प्रदेश कैम्पा को सोसाइटीज रजि० एक्ट-1860 के अंतर्गत दिनांक 12-08-2010 को पंजीकृत किया गया।

एडहॉक कैम्पा, भारत सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश कैम्पा स्टेयरिंग कमिटी द्वारा अनुमोदित वार्षिक प्रचालन योजना के क्रियान्वयन हेतु प्रत्येक वर्ष हेतु नियत धनराशि वार्षिक रूप से उत्तर प्रदेश कैम्पा के खाते में स्थानान्तरित की जाती है। एडहॉक कैम्पा, भारत सरकार द्वारा वर्ष 2009-10 की वार्षिक प्रचालन योजना के क्रियान्वयन हेतु रु० 47.0962 करोड़ की धनराशि उत्तर प्रदेश कैम्पा के खाते में दिनांक 10-05-2010 को तथा वर्ष 2010-11 की वार्षिक प्रचालन योजना हेतु रु० 35.3505 करोड़ दिनांक 16-03-2012 को तथा वर्ष 2011-12 की वार्षिक प्रचालन योजना हेतु दिनांक 23-09-2013 को रु० 30.48 करोड़ की धनराशि को स्थानान्तरित की गयी।

उत्तर प्रदेश कैम्पा द्वारा वर्ष 2009-10 के वार्षिक प्रचालन योजना के क्रियान्वयन हेतु रु० 36.2553 करोड़ वर्ष 2010-11 की वार्षिक प्रचालन योजना हेतु रु० 31.3996 करोड़ एवं वर्ष 2011-12 की वार्षिक प्रचालन योजना हेतु रु० 25.8486 करोड़ कार्यदायी संस्थाओं को अवमुक्त किया गया है।

उत्तर प्रदेश कैम्पा की वर्ष 2012-13 की रु० 4725.86 लाख की वार्षिक प्रचालन योजना उत्तर प्रदेश कैम्पा स्टेयरिंग कमेटी द्वारा अनुमोदनोपरान्त भारत सरकार को धनराशि अवमुक्त किये जाने हेतु प्रेषित की जा चुकी है। चूंकि वर्ष 2012-13 की वार्षिक प्रचालन योजना हेतु भारत सरकार से धनराशि अवमुक्त नहीं हुई है अतः वर्ष 2009-10 की वार्षिक प्रचालन योजना के अंतर्गत अप्रयुक्त धनराशि रु० 6.0947 करोड़ को आगामी वार्षिक प्रचालन योजनाओं में व्यय हेतु स्टीयरिंग कमेटी द्वारा अनुमोदन प्रदान किये जाने के उपरान्त वर्ष 2012-13 की योजना में अनुमोदित कार्यों पर व्यय किया जा रहा है।

कार्यदायी संस्थाओं को कुल अवमुक्त धनराशि रु० 99.5982 करोड़ के सापेक्ष कुल रु० 83.9069 करोड़ की धनराशि माह दिसंबर, 2013 तक व्यय की जा चुकी है। उक्त धनराशि से एन०पी०वी० में प्रस्तावित कार्यों के अतिरिक्त 4109.01 हे0 वृक्षारोपण तथा इसके अतिरिक्त 508,882 पौधों का रोपण किया जा चूका है।