पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग,

उत्तर प्रदेश सरकार, भारत

श्री योगी आदित्यनाथ

माननीय मुख्यमंत्री,उत्तर प्रदेश

श्री दारा सिंह चौहान

माननीय मंत्री,वन विभाग

वन अनुसंधान संस्थान, कानपुर

प्रकाशनों की सूची
  • उत्तर प्रदेश में वन पेड़ सुधार अनुसंधान की स्थिति।
    (वृक्ष सुधार और उद्गम अनुसंधान पर कार्यशाला में प्रस्तुत पेपर 20-21 अप्रैल, जयपुर वन एवं वन्य जीव विभाग)।
  • "डलबर्जिया शिशू में आनुवांशिक सुधार" डलबर्जिया प्रजातियों, 31 मई - 4 जून, 1993 को अंतर्राष्ट्रीय कार्यशाला में प्रस्तुत पेपर। (एफटीए हवाई, संयुक्त राज्य अमरीका द्वारा आयोजित) हतौदा, नेपाल।
  • "बिलायती बबूल में जेनेटिक सुधार"।प्रोसोपिस प्रजाति के क्षमता में कार्यशाला में प्रस्तुत पेपर भारत के शुष्क और अर्ध शुष्क क्षेत्र के लिए, 22-23 नवम्बर, कजरी, जोधपुर भारत।
  • "बबूल निलोटिका का उद्गम निशान"।वन अनुसन्धान, राज्य वन अनुसंधान प्रयोगशाला, कानपुर, की रिसर्च बुलेटिन में प्रकाशित पेपर वॉल्यूम 9-11, 1994.पृष्ठ 26-32)
  • कैज्यूराइना एसपीपी में "परिचयः विचरण।अंकुरण और विकास के संदर्भ के साथ "। (जर्नल ऑफ ट्रॉपिकल फॉरेस्ट, जबलपुर, जुलाई सितम्बर, 1995, वॉल्यूम 11 (III).
  • "डलबर्जिया लैटिफोरा का उद्भव एवं वृद्धि प्रदर्शन"।(एनएफटीआरआर, हवाई, 1995)
  • "बांस (डेंड्रोकैलामस स्ट्रिक्टस) बौना बीजरोपण"। एफआरआई, कानपुर उत्तर प्रदेश की शोध पत्रिका "वन अनुसन्धान" में प्रकाशित पेपर। वॉल्यूम 12, 1995, पृष्ठ 74-75)।
  • "नीम के उद्भव अध्य्यन (एजाडिरक्टा इंडिका ए. जस) पेड़ सीडिंग प्रदर्शन"।(नीम पर अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी: 21 वीं सदी के लिए एक पेड़, आईसीपीईपी, 96, एनबीआरआई, लखनऊ, नवम्बर 28, 1996)
  • "बीज अंकुर चरण में एजाडिरैक्टा इंडिका का प्रदर्शन अध्ययन "।(आईयूएफआरओ, नवाचार पर संगोष्ठी। वन वृक्ष बीज विज्ञान और नर्सरी प्रौद्योगिकी, नवम्बर.22-25, 1997, जीवन विज्ञान स्कूल, पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, राजपुर, 492,010, भारत"।
  • "आईपी वन एवं वन्य जीव विभाग में बिलायती बबूल की स्थिति"।(ज्ञान अवस्था "प्रोस्पिस" पर अंतर्राष्ट्रीय कार्यशाला में प्रस्तुत पेपर, कजरी जोधपुर, 8-9 फरवरी, 1999 को आयोजित।
  • "एजाडिरैक्टा इंडिका ए. जस्स के विभिन्न बीज स्रोत में एकाधिक पौध का तुलनात्मक विकास"।(इंडियन फॉरेस्टर, वॉल्यूम. 127 सं, 6 जून, 2001 मैं प्रकाशित पेपर)।