Javascript Required अनुश्रवण एवं मूल्यांकन - वन एवं वन्य जीव विभाग उत्तर प्रदेश

वन एवं वन्य जीव विभाग,

उत्तर प्रदेश सरकार, भारत

अनुश्रवण एवं मूल्यांकन

विश्व बैंक द्वारा सामाजिक वानिकी योजना के अन्तर्गत कराये गये वृक्षारोपण कार्यो के प्रभावी अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पर बल देने के फलस्वरूप वर्ष 1982 में अनुश्रवण एवं मूल्यांकन की स्थापना की गई। यह कार्यालय मुख्य वन संरक्षक, अनुश्रवण एवं मूल्यांकन के नियंत्रण में कार्य करती है, जिससे कार्यक्रमों को सही दिशा निधारित करते हुए एक सुदृढ आयाम एवं ठोस आधार दिया जाता है। अनुश्रवण एवं मूल्यांकन द्वारा तीन वर्ष पुराने विभागीय वृक्षारोपणों का सर्वेक्षण, रैण्डम सैम्पलिंग के आधार पर प्रतिवर्ष किया जाता है। इसके अतिरिक्त वृक्षारोपण व पौधशाला संबंधी सूचनाओं का संकलन कार्य नियमित रूप से किया जाता है।