वन एवं वन्य जीव विभाग,

उत्तर प्रदेश सरकार, भारत

श्री योगी आदित्यनाथ

माननीय मुख्यमंत्री,उत्तर प्रदेश

श्री दारा सिंह चौहान

माननीय मंत्री,वन विभाग

तेन्दूपत्ता , संग्रहण, भण्डारण एवं विपणन कार्य

तेन्दूपत्ता संग्रहण कार्यप्रणाली
  • प्रभागीय लौगिंग प्रबन्धक फडवार, इकाईवार, तेन्दूपत्ता तुडान आरम्भ करने की तिथियां अधीनस्थ कर्मचारियों को सूचित करेंगे।
    • ब्लाक बनाना:फड मुन्शी फड की सफाई, घेराबन्दी कर प्लाट में 5X6 मीटर के ब्लाकों का खाका (ले आउट) चूने से बनायेंगे
    • तेन्दूपत्ता क्रय: तोडे गये पत्तों की प्राप्ति के समय फड मुन्शी/चैकर द्वारा गड्डियों में पत्तें की संख्या, गुणता आदि हेतु निरीक्षण किया जाएगा। जिन गड्डियों में बीडी बनाने योग्य पत्तियां 50 से कम होगी उन्हें खुलवाकर उनमें पत्तियों की संख्या सही करायी जायेगी। जिन गड्डियों में लहरिया,चरेर, देबिया छेदहा पत्तियां होगी उन्हें निरस्त कर अलग रखवाकर नष्ट किया जायेगा ताकि श्रमिक उन्हें दुबारा गड्डी बनवाकर प्रस्तुत न कर सकें।
    • फड मुन्शी प्रत्येक श्रमिक द्वारा फड पर लायी गई स्वीकृति योग्य गड्डियों की गिनती करेंगे तथा ब्लाक में 25X 40 पंक्तियों को इस प्रकार फैलायेंगे ताकि बन्धन निचली सतह पर रहे व निचली पत्ती मोड दी जाय।
    • फड मुन्शी प्रत्येक श्रमिक के तेन्दूपत्ता संग्रहण एवं पारिश्रमिक कार्ड पर तिथिवार प्रविष्टि करेंगे व साथ-साथ उक्त विवरण तेन्दूपत्ता संग्रहण की दैनिक नोट बुक में भी प्रवि‍ष्टि करेंगे। जिन फडों में कार्ड व्यवस्था प्रचलित नही है वहां श्रमिकों को निर्धारित कूपन जारी किये जायेंगे।
    • पल्टाई व ढलाई : फड मुन्शी गड्डियों को सही प्रकार 3 दिन सुखाने के बाद पल्टाई करायेंगे ताकि गड्डियां भली प्रकार सूख सकें। फड मुन्शी गड्डियों की पल्टई के दो तीन दिन बाद गड्डियों की ढलाई करायेंगे।
    • कस्ती करना: फड मुन्शी गड्डियों में पत्तियों के सही प्रकार सूखने के बाद पत्तियों की सिंचाई व कस्ती की कार्यवाही करायेंगे। गड्डियों को खडा करने से पूर्व उनमें से मिट्टी झडवाना सुनिश्चित करेंगे।
    • बोरों का भरना:- फड मुन्शी गड्डियों की सन्तोषजनक कस्ती के पश्चात बोरों में गड्डियां इस प्रकार भरायेगें जिससे बोरी के निचले कोने खाली न रहे। वे बोरों पर निर्धारित स्थान में इकाई का नाम, फड का नाम, गड्डियों की संख्या अंकित करेंगे एवं बोरों को खडा करके रखवायेंगे।
    • फड मुन्शी बोरों में गड्डियों के भरान क बाद बोरों की पल्टी करायेंगे।
  • इकाई अधिकारी फड मुन्शी द्वारा कराये जा रहे कार्यो का निरीक्षण करेंगे एवं नियन्त्रण रखेंगे वे फडवार प्रपत्र 1.1 एवं 1.1 अ (फड मुन्शी की दैनिक संगणन नोटबुक) को जांच कर प्रमाणित करेंगे। यदि उक्त के विवरण में कोई कमी या बढोत्तरी पायी जायेगी तो उसका तुरन्त निराकरण करेंगे।