Forest and Wildlife Department,

Government of Uttar Pradesh, India

World Wetlands Day

विश्‍व वेटलैण्ड्स दिवस दिनांक (02.02.2019) के अवसर पर प्रदेश में बर्ड फेस्टिवल का आयोजन-
  • प्रत्येक वर्ष 2 फरवरी विश्‍व वेटलैण्ड्स दिवस के रूप में मनाया जाता है।
  • पारिस्थितिकी सन्तुलन बनाये व बचाये रखने में वेटलैण्ड्स की महत्वपूर्ण भूमिका के दृष्टिगत आज से 48 वर्ष पूर्व 2 फरवरी, 1971 को इरान के रामसर नामक स्थान पर वेटलैण्ड पर आयोजित सम्मेलन में विभिन्न देशों द्वारा समझौते पर हस्ताक्षर किये गये।
  • जलवायु परिवर्तन की दर न्यून करने में वेटलैण्ड्स की महत्वपूर्ण भूमिका के दृष्टिगत इस वर्ष विश्‍व वेटलैण्ड्स दिवस की विषय वस्तु वेटलैण्ड्स एवं जलवायु परिवर्तन (Wetlands and Climate Change ) चयनित की गई है।
  • दिनांक 02-02-2019 को शहीद चन्‍द्रशेखर आजाद पक्षी विहर, नवाबगंज, जनपद उन्नाव में मुख्य अतिथि मा0 मंत्री, वन, पर्यावरण, जन्तु उद्यान एवं उद्यान, उ0प्र0 श्री दारा सिंह चौहान द्वारा राज्य स्तरीय बर्ड फेस्टिवल का शुभारम्भ किया गया।
  • इस अवसर पर मा0 मंत्री जी द्वारा पक्षी फोटो प्रदर्शनी, क्‍ले मॉडलिंग स्‍टाल, ऑरेगामी स्‍टाल, बेस्‍ट आउट ऑफ वेस्‍ट स्‍टाल, फेस पेंटिंग स्‍टाल, जरीदोरी स्‍टाल एवं मूक बाधिर बच्‍चों द्वारा स्‍थापित पेंटिग स्‍टाल का उद्घाटन व अवलोकन किया गया।
  • भू व जल क्षेत्र का मिलन स्थल होने के कारण वेटलैण्ड्स में वन्य प्राणि प्रजातियों व वनस्पतियों की प्रचुरता होने से वेटलैण्ड्स विशिष्‍ट प्रकार का समृद्ध पारिस्थितिकी तंत्र तथा जैवविविधता का महत्वपूर्ण अंग है।
  • समाज के सभी वर्गों को वेटलैण्ड्स, पक्षियों व प्राकृतिक संसाधनों से जोड़ने हेतु इस वर्ष आयोजित किये जाने वाले बर्ड फेस्टिवल कार्यक्रमों में विद्यार्थियों, वरिष्‍ठ नागरिकों, दिव्यांग, दृष्टि बाधित व कम वित्तीय संसाधन वाले वर्गों के बच्चों, गृहणियों, युवाओं व सामाजिक कार्यों में लगे संगठनों के सदस्यों को भी शामिल किया गया।
  • एक जनपद-एक पारिस्थितिकी‘ की संकल्पना को प्रोन्नत करने हेतु प्रत्येक जनपद में वेटलैण्ड्स के किनारे बर्ड फेस्टिवल व बर्ड वाचिंग का आयोजन किया गया।
  • बर्ड फेस्टिवल आयोजन स्थलों पर सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग के माध्यम से ‘एक जनपद-एक उत्पाद’ की अवधारणा के अनुकूल सम्बन्धित विशिष्‍ट उत्पादों हेतु स्टाल व विलेज हाट लगाए गए।
  • बर्ड फेस्टिवल के समय विषेशज्ञों के साथ इण्टरनेट के माध्यम से परस्पर विचार विमर्श सत्र आयोजित किए गए।
  • पक्षी सम्बन्धी परिचर्चा, वेटलैण्ड का भ्रमण, आयोजन स्थलों पर देखे गए पक्षियों की सूची तैयार करने के साथ ही वेटलैण्ड्स पक्षी व प्रकृति आधारित विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गई।
  • पक्षी विषेशज्ञों द्वारा की गई बर्ड रिंगिंग से पक्षी के चिन्हीकरण, गतिविधि, जीवनचक्र, प्रवास, भोजन व्यवहार, क्षेत्र भ्रमण आदि की नियमित जानकारी प्राप्त होने से पक्षियों के वैज्ञानिक अध्ययन व प्रबन्धन में सहायता मिलेगी।

 

Click here--     विश्‍व वेटलैण्ड्स दिवस दिनांक (02-02-2019) के अवसर पर प्रदेश में आयोजित कार्यक्रम समाचार पत्रों की दृष्टि में :-